Chhattisgarh

आजादी की 75वीं वर्षगांठ में छत्तीसगढ़ कांग्रेस के 75 कार्यक्रम

प्रभारी महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला और प्रभारी महामंत्री प्रशासन रवि घोष की पत्रकारवार्ता

रायपुर (विश्व परिवार)।  प्रभारी महामंत्री संगठन चंद्रशेखर शुक्ला ने पत्रकारवार्ता में कहा है कि वह लड़ाई विचारधारा की लड़ाई है जो इतिहास के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। बीजेपी शासन में भगत सिंह को उन्ही लोग अपना बताते हैं, उनकी मूल भावनाओं को उनके वस्त्रों के आधार पर उनका पहचान बना रहे हैं। उनके मूल भावनाओं, विचारों और संदेशो को दरकिनार कर दे रहे हैं। युवा पीढ़ी को आने वाले समय में इस बात से अवगत करने के लिए कांग्रेस द्वारा आजादी का 75 वां वर्षगाठ हर्षोउल्लास के साथ मनाने का निर्णय लिया गया है। इस 75 वें वर्षगांठ में कांग्रेस द्वारा 75 कार्यक्रम रखे गए हैं जो संगठन के द्वारा निर्धारित हैं। ये सारे कार्यक्रम डिबेट, संगोष्ठिया, परिचर्चाये लोगों तक जाना, आम जनता तक जाना, आने वाली युवा पीढ़ी तक जाना जैसे कि कांग्रेस का एक नया विंग बना है जवाहर बाल मंच। युवा पीढ़ी के मन में घृणा भर रही है। यह भाजपा के ऐसे लोग जिनका आजादी के इतिहास में कोई योगदान नही है। जो लगातार यह प्रयास कर रहे कि किसी तरह इतिहास को छिन्न-भिन्न करके और उन लोगो को प्रतिष्ठित किया जाये। जिन्होने आजादी के लड़ाई में अपना नाखून तक नहीं कटाया है। ये मुहिम है अपने युवा पीढ़ी को, अपने समाज को कठिनाईयों और संघर्षो से आजादी मिली और इसी परिपेक्ष्य में यह प्रोग्राम बनाया गया है। चाहे एनएसयूआई की परिचर्चा कराये स्कूलो में जाकर, हमारे अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के लोग जाकर आम लोगो को बतायेंगे कि डॉ. साहेब भीमराव अम्बेडकर का क्या योगदान रहा है? कैसे नेहरू जी से गांधी जी से संबंध अच्छे थे? हमे यह भी बताना है कि किस तरह भाजपा और उनके आनुशंगिक संगठन की बुराई करते है। जब भगत सिंह का प्रकरण चला तो जवाहर लाल नेहरू जी क्या वकील नही खड़े हुये थे? सारे तथ्यो को हम युवाओं तक, आम जनमानस तक लेकर जायेंगे। विस्तार से बतायेंगे। तथ्यों से बतायेंगे। अवगत करायेंगे और यह भी बतायेंगे कि आजादी जो देश को मिली है, वह कांग्रेस की देन है। इस बात को पहुंचाने के लिये कांग्रेस द्वारा एक प्रोग्राम बनाया गया है। जिसकी 2 अक्टूबर महात्मा गांधी की जन्मदिवस से प्रारंभ होगी और इसका समापन 15 अगस्त को होगी। इसी परिपेक्ष्य में 2 तारीख को राजीव भवन में रामधुन होगा जिसमें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, वरिष्ठ कांग्रेस नेतागण शामिल होंगे। उसी दिन महासमुंद के झलप में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम का प्रोग्राम होगा जहां गांधी जी को याद भी किया जायेगा और स्वतंत्रता सेनानियों के परिवारों का सम्मान भी किया जायेगा। कुष्ठ बस्तियों में जाकर सेवा की जायेगी। इसी प्रकार हमारे 75 प्रोग्राम बने है। इस कार्यक्रम का मूल उद्देश्य है आजादी की लड़ाई में जो हमारे नेता शहीद हुये जो कांग्रेस का योगदान है। इस बात को लेकर पूरी लड़ाई विचारधारा की लड़ाई है। साथ ही इतिहास के साथ खिलवाड़ कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.