धरमलाल कौशिक को धान की चिंता है तो मोदी से उसना लेने की बात करें-कांग्रेस

0
43

धरमलाल कौशिक आपदा में स्तरहीन राजनीति कर रहे

रायपुर (विश्व परिवार)।  नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक धान भीगने के संबंध में स्तरहीन राजनीति करने से बाज आयें। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि धान प्राकृतिक आपदा के कारण भीगा है। सरकार ने इस प्रकार की बेमौसम बारिश से बचाव के लिये सभी सोसायटियों में तिरपाल खरीदी के अलग से राशि स्वीकृत किया था। अचानक बेमौसम बारिश होने के दौरान जिन सोसायटी के कर्मचारियों ने लापरवाही बरती और धान की छल्लियों को तिरपाल से नहीं ढका उनके खिलाफ अनुशासन की कार्यवाही की जा रही है तो इसमें नेता प्रतिपक्ष बयानबाजी कर आपत्ति जता कर लापरवाही को प्रश्रय देने का काम कर रहे। खरीदी केंद्रों में सोसायटियों में धान को ढकने मंत्री नहीं जाते जो धरमलाल इसके लिये मंत्री को बर्खास्त करने की मांग कर रहे।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष अचानक आई विपदा में अवसरवादी राजनीति कर रहे है। एक जिम्मेदार राजनेता होने के नाते उन्हें इस समय आरोप प्रत्यारोप करने के बजाय सरकार का साथ देना चाहिये। कौशिक इस समय केंद्र को पत्र लिख कर छत्तीसगढ़ से उसना चावल लेने का अनुरोध करने का साहस क्यों नहीं दिखाते। यदि केंद्र सरकार उसना चावल की स्वीकृति दे दे तो बरसात में भीगे धान से आसानी से उसना चावल बन जायेगा तथा राज्य की संपदा को हुये नुकसान में कुछ हद तक कमी भी हो जायेगी।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के नेताओं की प्राथमिकता में छत्तीसगढ़ के किसान और उनका धान है ही नहीं। मोदी सरकार छत्तीसगढ़ से उसना चावल लेने को तैयार नहीं कोई भाजपा नेता इस संबंध में केंद्र से बात नहीं कर रहा मोदी सरकार राज्य को बारदाना नहीं दे रही। कोई भाजपा नेता इस संबंध में मोदी सरकार से कुछ कहने की हिम्मत नहीं दिखा रहा। भाजपा के राज्य के नेता और सांसद मोदी की नाराजगी के डर से राज्य की हित में जुबान नहीं खोल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here